Translate

Contact Me

 LinkedinFacebookFacebookFlickrTwitterSlideshare Google Buzz

अभिलेखागार

श्रेणीबद्ध करके

रबड् किसान को क्यों नहीं जी.एम रबड् चाहिये?

खालि रबड् किसान नहीं सारे भारत वासियों को जागना होगा

Decision taken in the 104th meeting of the Genetic Engineering Appraisal Committee (GEAC) held on 15.11.2010.

The 104 meeting of the GEAC was held on 15.11.2010 in the Ministry of Environment and Forests (MoEF) under the chairmanship of Shri M.F. Farooqui, Additional Secretary, MoEF and Chairman, GEAC. The deliberations and decision taken in the GEAC […]

जी.इ.ए.सी भारत छोडो।

धीरे धीरे उत्पत्ति- संवंधी बदलाव की गई फसल हमारे खेत भर आने की संभावना हैं। उसकेलिये ही ‘जनटिक एन्जिनीयरिंग अप्रुवल कमटी’ (GEAC) के कोशिश। ऐसे एक कमटी के जरूरत हमें नहीं। सिर्फ हमें ‘जी.ई.ए.सी भारत छोडो’ ही एक मटी को जाननेवाला एक किसान को बोल सकेगा। जनटिक एन्जिनीयरिंग सस्यों के सारे कि सारे कोश […]

किसानों को इकटा हो सकता हैं

केरल की किसानों को इकटा करने केलिये और उनके समस्याओं को इन्टेर नेट पर पहूँचाने केलिये एक कोशिश मैं ने शुरू की।

[…]